IMPS क्या है? IMPS और NEFT में क्या अंतर है? पूरी जानकारी।

IMPS क्या है: आज के समय में ऑनलाइन भुगतान करना बहुत ही आसान हो गया है। आज कल e-Payment करने के लिए बाजार में कई  साधन उपलब्ध है। जैसे- UPI, Debit Card, Credit Card, AePS, आदि। IMPS भी उन्ही में से एक है। आप ने भी किसी को Fund Transfer करने के लिए आईएमपीएस का इस्तेमाल किया होगा। लेकिन क्या आपको पता है IMPS क्या है? यदि नहीं जानते है, तो यह लेख आपके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होने वाला है।

आईएमपीएस द्वारा किसी को भी घर बैठे आसानी से पैसे ट्रान्सफर सकते है। यह किसी भी ऑनलाइन भुगतान तरीको में से सबसे तेज भुगतान तरीका है। आज कल लगभग सभी बैंक द्वारा अपने ग्राहकों को यह सुविधा प्रदान की जा रही है। चलिए बिना देर किये जानते है ‘IMPS क्या होता है?’ ‘आईएमपीएस कैसे काम करता है?’ ‘IMPS कैसे करें? ‘आईएमपीएस के लाभ और विशेषताएं क्या है?’ और ‘IMPS और NEFTमें क्या अंतर है?’

सबसे पहले जानते है IMPS का पूरा नाम क्या है?      

IMPS का फुल फॉर्म क्या है? (IMPS Full Form)

आईएमपीएस (IMPS) का पूरा नाम (Full Form) ‘Immediate Payment Service’ है। जिसका हिंदी मतलब “तत्काल भुगतान सेवा” है। यह भुगतान करने का सबसे सरल और तेज तरीका है। जिसकी मदद से आप 24/7 घर बैठे किसी को भी पैसे ट्रान्सफर (Fund Transfer) कर सकते है।

IMPS क्या है? (What id IMPS?)

IMPS को नेशनल पेमेंट कारपोरेशन of इंडिया (National Payment Corporation of India) द्वारा 22 नवम्बर 2010 को पुरे देश में लागु किया था। यह भुगतान करने का सबसे तेज और सुरक्षित तरीका है। इसके द्वारा आप किसी भी दिन 24 घंटे कही से भी अपने फ़ोन और इंटरनेट (Internet) का इस्तेमाल करके वास्तविक समय (Real Time) में किसी भी बैंक में पैसे ट्रान्सफर (Fund Transfer) कर सकते है।

शुरुवात में इस सर्विस को केवल स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया, आईसीआईसीआई बैंक एवं बैंक ऑफ़ इंडिया द्वारा शुरू किया गया था। लेकिन अब धीरे-धीरे देश की सभी बैंकों ने इस सेवा को अपने ग्राहकों के लिए शुरू कर दिया है।

इस सुविधा का सबसे ज्यादा लाभ देश के युवा वर्ग उठा रहें है। आईएमपीएस पिछले 10 वर्षो में युवाओं के लिए फण्ड ट्रान्सफर करने का सबसे पसंदीदा तरीका बन गया है। इसकी सबसे बड़ी वजह है भुगतान करने के लिए बैंक खुलने का इंतज़ार नहीं करना पड़ता है। यह सुविधा बैंक हॉलिडे (Bank Holiday) में भी उपलब्ध रहता है।   

जब हम आईएमपीएस की बात कर रहें है तो हमें IMPS की विशेषताएं क्या है इसके बारे में जानना भी जरुरी हो जाता है। आईये जानते है।

IMPS की विशेषताएं? (Features of IMPS)

IMPS की कुछ विशेषताएं निम्न प्रकार से है।

24/7 उपलब्धता (24/7 Availability)

IMPS की सुविधा आपको किसी भी दिन 24 घंटे मिलती है। आपको भुगतान करने के लिए बैंक खुलने का इंतज़ार नहीं करना पड़ता है। और ना ही बैंक की लम्बी लाइन में लगाने की जरुरत होती है।

बहु मंच समर्थन (Multi Platform Support)

IMPS मुख्य रूप से मोबाइल बैंकिंग (Mobile Banking) के लिए शुरू किया गया था। लेकिन अब यह सभी वेब प्लेटफार्म (Web Platform) को सपोर्ट करता है। अगर आपके पास इंटरनेट बैंकिंग (Internet Banking) की सुविधा उपलब्ध है तो आप इसके द्वारा IMPS कर सकते है। लेकिन इसके लिए आपके पास भुगतान प्राप्त करने वाले व्यक्ति का बैंक अकाउंट नंबर, IFSC कोड, ब्रांच, आदि की जरुरत पड़ती है।    

एकाधिक उपयोग (Multiple Uses)

IMPS का उपयोग पैसे ट्रान्सफर करने के अलावा आप ऑनलाइन शौपिंग, फीस भुगतान, टिकेट बुकिंग, इन्सुरेंस प्रीमियम भुगतान, ऑनलाइन मर्चेंट भुगतान, आदि में भी कर सकते है।

भुगतान करने का सरल तरीका (Simple way to make payment)

आईएमपीएस के द्वारा पैसे ट्रान्सफर करना RTGS और NEFT की तुलना में ज्यादा आसान है। इसके माध्यम से पैसे ट्रान्सफर करने के लिए बैंक रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर और भुगतान प्राप्त करता के MMID (Mobile Money Identify Number) नंबर की आवश्यकता होती है। इसलिए यह भुगतान करने के सबसे आसान तरीका माना जाता है।

तेजी से फंड ट्रांसफर (Fast Fund Transfer)

IMPS Service वास्तविक समय (Real Time) में पैसे ट्रान्सफर करने की सुविधा प्रदान करता है। बैंक सर्वर डाउन होने की स्थिति में भी प्राप्तकर्ता के खाते में अधिकतम एक घंटे में पैसे ट्रान्सफर हो जाते है। इसलिए आईएमपीएस सर्विस को सबसे तेज पैसे ट्रान्सफर करने वाला ePayment माना जाता है।    

फण्ड ट्रांसफर का सुरक्षित तरीका (Safe way to transfer funds)

IMPS से पैसे ट्रान्सफर करना एक सुरक्षित तरीका माना जाता है। क्योकि इसमें भुगतान करते समय प्राप्त करता के केवल MMID की जरुरत होती है। इसके अलावा बैंक सर्वर (Bank Server) काफी सुरक्षित माने जाते है। और Web Server पर डाटा को Encrypt किया जाता है जिसे तोडना लगभग असंभव है।

यदि भुगतान करने वाला व्यक्ति भुगतान करते समय गलत जानकारी दर्ज करता है तो सुरक्षा में कमी आ जाती है। आईएमपीएस के नियम के अनुसार यदि कोई व्यक्ति भुगतान करते समय भुगतान प्राप्तकर्ता के गलत मोबाइल नंबर या MMID नंबर डालता है तो पूरी जिम्मेदारी उसी व्यक्ति की होती है। 

मोबाइल अलर्ट सुविधा (Mobile Alert feature)

आईएमपीएस के माध्यम से भुगतान करने के बाद बैंक द्वारा एक टेक्स्ट मेसेज (Text Message) दोनों पक्षों के मोबाइल पर भेजा जाता है। जिससे की पैसे भेजने वाले और प्राप्त करने वाले को भुगतान सही स्थिति का पता लग जाये।

इन्हें भी पढ़ें:

IMPS के लाभ (Advantage of IMPS)

IMPS के कुछ विशेष लाभ निम्न प्रकार से है।

उपयोग करने में आसान (Easy To Use)

IMPS सर्विस का इंटरफ़ेस (Interface) मोबाइल फ्रेंडली होने की वजह से आप कही से भी आईएमपीएस के द्वारा पैसे ट्रान्सफर कर सकते है। आज कल लगभग हर कोई व्यक्ति स्मार्टफोन का इस्तेमाल करता है। और हर समय मोबाइल को अपने पास ही रखता है।

24/7 उपलब्धता (24/7 Availability)

IMPS का सबसे बड़ा लाभ 24/7 उपलब्धता है। इसी वजह से लोग बाकि भुगतान प्रणाली की तुलना में आईएमपीएस को ज्यादा पसंद करते है।

मान लीजिये आपके किसी दोस्त को रात के 10 बजे पैसो की जरुरत पड़ गयी। और ऐसे समय में बैंक बंद रहते है। तो फिर आप IMPS Service का उपयोग करके अपने दोस्त को तुरंत पैसे भेज सकते है। अगर आपके पास IMPS सर्विस उपलब्ध नहीं है तो आपको सुबह बैंक खुलने का इन्तेजार करना पड़ेगा।

फण्ड ट्रांसफर करने में तेज (Fast fund transfer)

IMPS से फण्ड ट्रान्सफर करना RTGS और NEFT की तुलना में बहुत तेज है। बैंक सर्वर डाउन होने के स्थिति में भी आपका पैसा एक घंटे में ट्रान्सफर हो जाता है।

कई बार हमें किसी दोस्त, रिश्तेदार को अर्जेंट पैसा भेजना होता है। ऐसे में अगर हम RTGS और NEFT की मदद से पैसे भेजते है तो कम से कम 2 घंटे लग जाते है। ऐसे में हम आईएमपीएस की मदद से उस दोस्त या रिश्तेदार को कुछ ही मिनटों में पैसे भेज सकते है।

गोपनीय जानकारी की आवश्यकता नहीं (Confidential information is not required)

अगर हम मोबाइल का इस्तेमाल करके किसी व्यक्ति को IMPS से पैसे भेजते है हमें केवल भुगतान प्राप्त करने वाले व्यक्ति का मोबाइल नंबर या MMID की जरुरत होती है। इसलिए इसमें गोपनीय जानकारी की जरुरत नहीं होती है। और अगर आप Internet Banking से किसी को IMPS करते है तो भुगतान प्राप्त करने वाले का पूरी बैंक जानकारी की आवश्यकता होती है।

ऑनलाइन स्थानांतरण (Online Transfer)

जिनके पास इंटरनेट कनेक्टिविटी (Internet Connectivity) की समस्या होती है। वे लोग USSD या SMS के माध्यम से फण्ड ट्रान्सफर कर सकते है। USSD या SMS कोड का फॉर्मेट बैंक से प्राप्त करना होगा।  

कम चार्जेज (Low Charges)

IMPS के द्वारा पैसे ट्रान्सफर करने पर चार्जेज देने होते है। हर बैंक के IMPS चार्जेज अलग-अलग होते है। आईएमपीएस के माध्यम से आप न्यूनतम 1 रुपये से लेकर अधिकतम 5 लाख रुपये तक ट्रान्सफर कर सकते है।

IMPS पर लगाने वाला चार्जेज निम्न हो सकते है। बाकि चार्जेज सम्बंधित पर निर्भर करते है।

भुगतान राशी शुल्क (बैंक के अनुसार परिवर्तनशील है)
10,000 रुपये तक2.50 रुपये + GST
10,000 रुपये से 1 लाख तक5 रुपये + GST
1 लाख से 2 लाख रुपये तक15 रुपये + GST
2 लाख और इससे अधिक25 रुपये + GST या कोई शुल्क नहीं
IMPS Charges

*कुछ बैंक 2 लाख से अधिक राशी का आईएमपीएस करने पर कोई चार्जेज नहीं लेती है।

IMPS करने के लिए योग्यता (Eligibility for IMPS)

IMPS करने के लिए आपके पास निम्न योग्यता होनी चाहिए।

  • IMPS सर्विस मोबाइल बैंकिंग सेवा है। इसलिए आपके पास मोबाइल बैंकिंग सुविधा होना जरुरी है।
  • आपके पास इंटरनेट सर्विस चालू होना चाहिए।
  • मोबाइल से आईएमपीएस करने के लिए रिसीवर और प्राप्तकर्ता के पास MMID होना आवश्यक है।
  • IMPS करने के लिए बैंकों की शर्तो को पूरा करना भी जरुरी है।
  • केवल वही बैंक आईएमपीएस सुविधा प्रदान कर सकते है जो RBI द्वारा स्वीकृत है।

IMPS कैसे काम करता है? (How does IMPS work?)

IMPS सर्विस को मुख्य रूप से मोबाइल के लिए बनाया गया है। इसलिए आपके पास मोबाइल बैंकिंग सेवा चालू होना जरुरी है। साथ ही आपका मोबाइल नंबर बैंक अकाउंट से कनेक्टेड होना चाहिए।

इसके बाद यूजर को सम्बंधित बैंक का मोबाइल एप्लीकेशन अपने मोबाइल में डाउनलोड करना होता है और 7 डिजिट का MMID (Mobile Money Identifayer) बनाना होता है। MMID के बिना IMPS सेवा का लाभ नहीं उठा सकते है।

MMID Generate होने के बाद आप IMPS सेवा का लाभ उठा सकते है।

Immediate Payment Service से भुगतान करने के लिए आपके पास भुगतान प्राप्त करने वाले व्यक्ति का MMID या मोबाइल नंबर की जरुरत होती है।

मोबाइल बैंकिंग के बढ़ने से ज्यादातर यूजर आईएमपीएस के द्वारा पैसे ट्रान्सफर करने लगे है। क्योकि इसमें पैसे भेजने के लिए लाभार्थी के बैंक डिटेल्स डालने आवश्यकता नहीं होती है। और यूजर आसानी से 2 लाख रुपये तक आईएमपीएस कर सकते है। और या राशी सामान्य यूजर के लिए काफी होती है। अगर 2 लाख से ज्यादा पैसे ट्रान्सफर करने की जरुरत है तो इसके लिए RTGS की सुविधा बैंक द्वारा उपलब्ध है।

आईएमपीएस (IMPS) द्वारा फण्ड ट्रान्सफर करने की लिमिट प्रत्येक बैंक की अलग हो सकती है।

IMPS कैसे करें? (How to do IMPS?)

IMPS द्वारा पैसे ट्रान्सफर करने के लिए MMID (Mobile Money Identification Number) एक्टिवेट करना बहुत आवश्यक है। यह 7 अंको की यूनिक संख्या होती है। इसके बिना आप IMPS सेवा का लाभ उठा नहीं सकते है। MMID नंबर प्राप्त करने के लिए इंटरनेट बैंकिंग (Internet Banking) का इस्तेमाल कर सकते है।

निम्नलिखित निर्देशों का पालन करेक आईएमपीएस से पैसे भेज सकते है।

  • सबसे पहले आपका जिस बैंक में खाता है उसका मोबाइल एप्लीकेशन अपने फ़ोन में डाउनलोड करें।
  • इसके बाद बैंक द्वारा प्राप्त User ID और Paasword डालकर लॉग इन करें।
  • लॉग इन होने के बाद IMPS विकल्प पर जाएँ और अपना MMID बनाए के लिए दिए गए निर्देशों का पालन करें।
  • आपका 7 डिजिट MMID बनाने के बाद IMPS सेवा का लाभ उठाने के लिए तैयार है।
  • अब फण्ड ट्रान्सफर करने के लिए IMPS के विकल्प पर जाये।
  • इसके बाद भुगतान प्राप्त करने वाले व्यक्ति का नाम, रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर, MMID नंबर और ट्रान्सफर राशी दर्ज करें। (ध्यान रहे लाभार्थी के MMID नंबर के बिना IMPS नहीं कर सकते है।)
  • इसके बाद आपके मोबाइल नंबर पर एक OTP आएगा जिसे डालकर भुगतान वेरीफाई करें।
  • वेरीफाई करने के बाद आपके बैंक खाते से पैसे कट कर प्राप्तकर्ता के खाते में चले जायेंगे।
  • इसके बाद दोनों पक्षों पर भुगतान सफल होने का मेसेज मिल जायेगा।         

ATM के द्वारा IMPS कैसे करते है?

यदि आप ATMके द्वारा IMPS करना चाहते है तो निम्न प्रक्रिया अपनाएं।

  • ATM कार्ड को ATM मशीन में डालें और अपना PIN दर्ज करें।
  • इसके बाद Fund Transfer के विकल्प को चुने।
  • अब IMPS विकल्प को चुने।
  • इसके बाद आपको रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर दिखेगा।
  • अब मोबाइल नंबर पर क्लिक करें और जिसके खाते में भुगतान करना है उसका मोबाइल नंबर और MMID नंबर डालें।
  • इसके बाद भुगतान राशी डालें और Confirm पर क्लिक करें।
  • कन्फर्म करने के बाद पैसे ट्रान्सफर हो जायेंगे।
  • भुगतान होने के बाद दोनों पक्षों के मोबाइल नंबर पर मेसेज मिल जायेगा।

SMS के द्वारा IMPS कैसे करते है?

कई बार ऐसा होता है की इन्टरनेट कनेक्टिविटी में समस्या होने के कारण पूरी तरह से इन्टरनेट मिल पाता है। और ऐसे समय में हमें किसी को अर्जेंट में पैसे भेजने होते है। ऐसे समय में आप SMS के द्वारा IMPS कर सकते है। जिसके लिए आप निम्नलिखित प्रक्रिया को अपनाएं।

नोट: यह फोर्मेट सभी बैंक में अलग होते है। यहाँ हम केवल उदहारण के लिए आपको बता रहें है। सही फॉर्मेट का पता आप अपने बैंक से पता करें।

IMPS<Beneficiary Mobile No><Beneficiary MMID><Amount><MPIN>

दिए गए फॉर्मेट के अनुसार आप SMS द्वारा IMPS कर सकते है।

इन्हें भी पढ़ें:

IMPS और NEFT में अंतर क्या है?

IMPS और NEFT के बीच मुख्य अंतर निम्न प्रकार से है।

विवरण के आधार पर अंतर (Diffrence in Details)

आईएमपीएस को वर्ष 2010 में शुरू किया गया था। जबकि NEFT को वर्ष 2005 में शुरू किया गया था। IMPS का पूरा नाम Immediate PaymentService है और NEFT का पूरा नाम National Electronic Fund Transfer है। IMPS का पूरा कार्य नेशनल पेमेंट्स कारपोरेशन ऑफ़ इंडिया (NPCI) की देख रेख में किया जाता है। जबकि NEFT का पूरा कार्य रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया (RBI) की देख रेख किया जाता है।

प्रक्रिया में अंतर (Difference in Process)

IMPS के द्वारा भेजे गए पैसे तुरंत प्रभाव से भुगतान प्राप्तकर्ता के खाते में ट्रान्सफर हो जाता है। जबकि NEFT द्वारा ट्रान्सफर बैच मेथड के आधार पर ट्रान्सफर किया जाता है। इसमें फण्ड ट्रान्सफर करने में कुछ समय लग सकता है। क्योकि यह दो बैंकों के बीच पैसे को ट्रान्सफर करता है।

समय के आधार पर अंतर (Difference in Time)

IMPS के द्वारा आप कभी भी पैसे ट्रान्सफर कर सकते है। जबकि NEFT के द्वारा पैसे ट्रान्सफर केवल बैंकिंग कार्यकाल दौरान ही कर सकते है। यानि जिस दिन बैंक का हॉलिडे होगा उस दिन आप NEFT द्वारा पैसे ट्रान्सफर नहीं कर सकते है।

फण्ड ट्रांसफर चार्जेज के आधार पर अंतर (Difference on the basis of fund transfer charges)

प्रत्येक बैंक में IMPS और NEFT चार्जेज अलग-अलग होते है। आईएमपीएस का प्रति Transaction न्यूनतम चार्जेज 5 रुपये और अधिकतम चार्जेज 25 रुपये तक होता है। जबकि NEFT का प्रति Transaction न्यूनतम चार्जेज 1 रुपये और अधिकतम चार्जेज 15 रुपये तक होता है।

फण्ड ट्रांसफर लिमिट के आधार पर अंतर (Difference on the basis of fund transfer limit)

IMPS और NEFT के ट्रान्सफर लिमिट की बात करें तो आईएमपीएस के द्वारा न्यूनतम 1 रुपये से लेकर अधिकतम 2 लाख रुपये तक ट्रान्सफर कर सकते है। जबकि NEFT के द्वारा न्यूनतम 1 रुपये से लेकर 10 लाख रुपये ट्रान्सफर किया जा सकता है। NEFT की ट्रान्सफर लिमिट प्रत्येक बैंक की अलग-अलग हो सकती है।  

Video Credit: SidTalk

IMPS Service Bank in India

यहाँ हम कुछ IMPS Service देने वाले बैंकों की लिस्ट दे रहें है। जो मुख्य रूप से भारत में आईएमपीएस की सुविधा दे रहें है। बैंकों की अपडेट सूचि देखने के लिए आप NPCI की अधिकृत वेबसाइट पर विजिट करें।

  • Andhra Bank
  • Allahabad Bank
  • Adarsh Co-Operative Bank Ltd.
  • Axis Bank
  • Bandhan Bank Ltd.
  • Bank of India
  • Bank of Baroda
  • Bassein Catholic Co-op Bank
  • Bank of Maharashtra
  • Canara Bank
  • BNP Paribas
  • Central Bank of India
  • Catholic Syrian Bank
  • City Union Bank
  • Citibank
  • Cosmos Co-operative Bank
  • Corporation Bank
  • Development Bank of Singapore
  • Dena Bank
  • Dhanalakshmi Bank
  • Development Credit Bank
  • Federal Bank
  • Dombivli Nagarik Sahakari Bank
  • HSBC
  • HDFC Bank
  • IDBI Bank
  • ICICI Bank
  • Indian Overseas Bank
  • Indian Bank
  • ING Vysya Bank
  • IndusInd Bank
  • Janata Sahakari Bank, Pune
  • Jammu & Kashmir Bank
  • Karur Vysya Bank
  • Karnataka Bank
  • Kerala Gramin Bank
  • Lakshmi Vilas Bank
  • Kotak Mahindra Bank
  • Nainital Bank
  • Mehsana Urban Co-operative Bank
  • NKGSB Co-operative Bank
  • Pragathi Krishna Gramin Bank
  • Oriental Bank of Commerce
  • Punjab and Sind Bank
  • Punjab and Maharashtra Co-op Bank
  • Rajkot Nagrik Sahkari Bank Ltd
  • Punjab National Bank
  • Saraswat Bank
  • RBL Bank
  • Standard Chartered Bank
  • South Indian Bank
  • State Bank of Hyderabad
  • State Bank of Bikaner and Jaipur
  • Syndicate Bank
  • Thane Janata Sahakari Bank
  • State Bank of Mysore
  • State Bank of India
  • Tamilnad Mercantile Bank
  • State Bank of Travancore
  • State Bank of Patiala
  • The A.P Mahesh Urban Co-op Bank
  • UCO Bank
  • The Greater Bombay Co-op Bank
  • Union Bank of India
  • Vijaya Bank
  • United Bank of India
  • Yes Bank

FAQ for IMPS क्या है?

IMPS Fund Transfer Limit

IMPS द्वारा Fund Transfer की प्रतिदिन न्यूनतम 1 रुपये से लेकर 2 लाख रुपये तक कर सकते है।

आईएमपीएस फण्ड ट्रान्सफर चार्जेज क्या है?

IMPS Fund Transfer चार्जेज 10000 रुपये तक के राशी पर 2.50 रुपये, 10000 रुपये से 1 लाख रुपये तक 5 रुपये, 1 लाख से 2 लाख रुपये तक 15 रुपये है। यह चार्जेज विभिन्न बैंकों में अलग हो सकते है।

क्या आईएमपीएस से पैसे ट्रान्सफर करने पर चार्जेज लगते है?

हाँ, आईएमपीएस द्वारा पैसे ट्रान्सफर करने पर चार्जेज लगते है। यह चार्जेज प्रत्येक बैंक के अलग हो सकते है।

आईएमपीएस से पैसे भेजने समय क्या है?

IMPS सेवा का लाभ आप किसी भी दिन 24 घंटे कभी भी उठा सकते है। बैंक हॉलिडे के दिन भी इस सर्विस का लाभ ले सकते है।

आईएमपीएस सर्विस को कैसे चालू करें?

IMPS Service को चालू करने के लिए अपने बैंक खाते में मोबाइल बैंकिंग सेवा को चालू करवाना होता है। जिसके लिए आपको अपने बैंक से संपर्क करना होगा।

क्या आईएमपीएस के द्वारा किसी दुसरे देशो में पैसे ट्रान्सफर कर सकते है?

नहीं, आईएमपीएस का उपयोग केवल Domestic Fund Transfer Transaction के लिए किया जाता है।

निष्कर्ष : आईएमपीएस क्या होता है?

दोस्तों, उम्मीद है की मैंने आपको IMPS क्या है? IMPS और NEFT में क्या अंतर है? के बारे में पूरी जानकारी दी है। और उम्मीद करता हु की IMPS कैसे करें?, आईएमपीएस के फायदे और विशेषताएं आपको अच्छे से समझ में आ गया होगा।

आपको कैसी लगी हमारी पोस्ट IMPS क्या है? IMPS और NEFT में क्या अंतर है? पूरी जानकारी. हमें कमेंट बॉक्स में Comment करके जरूर बताये। इसके अलावा आपके मन में कोई सवाल है तो आप comment box में पूछ सकते है। मै पूरी कोशिश करूँगा आपके सवालो का जवाब देने की।

Sonu Singh

Hello friends, I am Sonu Singh, Author & Co-Founder of wekens. Talking about education, I am a graduate. I love to learn and learn about technical news, top story, history. I request you that you keep supporting us in this way and we will continue to provide new information for you. #wekens Team, Digital India, Jai Hind

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.